बुधवार, 7 जनवरी 2009

प्रतिशत प्रश्न ५

प्रश्न सं :- सुनील को २४० अंक मिले और वह २४ अंक से फेल हो गया अगर पास होने के लिए न्यूनतम अंक ३३ % आने चाहिए तो कुल कितने अंक होंगे ?
हल का तरीका :- यहाँ सोंचे कि सुनील को २४० अंको से २४ अंक अधिक यानि कि २६४ अंक मिले होते तो वह पास हो जाता । यही २६४ अंक ३३ % हुए । इस प्रकार १०० % होंगे (२६४ / ३३) x १०० = ८०० ।

नोट :- मैंने पहले ही लिख दिया है कि आपको कत्तई पेन का इस्तेमाल नही करना है कर्मचारी चयन आयोग या इस तरह कि अन्य परीक्षाओं में आपका quatitative aptitude टेस्ट किया जाता है कि दशमलव के अंक तक गुना भाग करना इसलिए ऐसे प्रश्नों में गुना भाग भी अत्यन्त सरल प्रयोग करना पड़ता है इसको भी मन में ही करने कि आदत डालनी चाहिए जैसे ऊपर के भाग को करने के लिए सोंचे २६४ / ३३ या २६४ /११ x या २४/ या और में १०० का गुना ८०० हुआइस प्रकार आपको पेन कहीं भी प्रयोग नही करना पड़ा


सुशील दीक्षित

10 टिप्पणियाँ:

Abhishek ने कहा…

अच्छा प्रयास शरू किया है आपने, प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी में जुटे छात्रों को काफी मदद मिलेगी.

रचना गौड़ ’भारती’ ने कहा…

नववर्ष् की शुभकामनाएं
very good efforts
कविता,गज़ल और शेर के लि‌ए मेरे ब्लोग पर स्वागत है ।
मेरे द्वारा संपादित पत्रिका देखें
www.zindagilive08.blogspot.com
आर्ट के लि‌ए देखें
www.chitrasansar.blogspot.com

अनूप शुक्ल ने कहा…

सही है जी!

अशोक मधुप ने कहा…

हिंदी लिखाड़ियों की दुनिया में आपका स्वागत। अच्छा लिखे। खूब लिखे। बहुत सारी शुभकामनांए।

आनंद ने कहा…

बहुत अच्‍छा विषय है। जारी रखें। शुभकामनाएँ।

- आनंद

Jyotsna Pandey ने कहा…

ब्लॉग जगत में आपका हार्दिक स्वागत है!
मेरी शुभकामनाएं!
मेरे ब्लॉग पर भी आपका स्वागत है.

आनंदकृष्ण ने कहा…

ब्लोगिंग की दुनिया में आपका हार्दिक स्वागत है. एक समर्थ और सार्थक अभिव्यक्ति के लिए सिर्फ़ बधाई काफी नहीं होती..... आपका लेखन फले-फूले और आपके शब्दों को नित नए अर्थ और रूप मिलें यही शुभ कामना है.

मेरे ब्लॉग पर भी पधारें.
http://www.hindi-nikash.blogspot.com

सादर-
आनंदकृष्ण, जबलपुर

प्रकाश बादल ने कहा…

बहुत ख़ूब भाई मगर मुझे तो कुछ भी समझ नहीं आया।जिस दिन मैने मैट्रिक पास किया था, उस दिन मैने तो बहुत से लड्डू बाँटे थे क्योंकि हिसाब से छुटकारा जो मिल गया था। लेकिन आपका यह ब्लॉग बहुत ही अच्छा है। शायद मैं भी कुछ सीख पाऊं।

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत सुंदर...आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है.....आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे .....हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

नारदमुनि ने कहा…

teen paanch karne me master hain aap to. narayan narayan

एक टिप्पणी भेजें