शनिवार, 17 जनवरी 2009

आज सन्डे है - इसलिए हलकी फुलकी गणित

हलकी फुलकी गणित
यदि आपको यह चेक करना हो कि किसी संख्या में दूसरी संख्या से भाग हो पायेगा या नही अर्थात वह संख्या दूसरी संख्या से विभाजित हो पाएगी कि नही उसके लिए नीचे दी गई बातों को ध्यान में रखें :-

() से विभाजन
यदि संख्या का ईकाई अंक सम संख्या है या शून्य है तो वह संख्या २ से विभाजित हो जायेगी। इस प्रकार संख्या चाहे जितनी बड़ी हो लेकिन पहला अंक ही यह निर्धारित कर देगा की वह २ से विभाज्य है की नही ।

जैसे :- २८४५६७४ दो से विभाज्य है क्योंकि इसका इकाई अंक २ से विभाज्य है ।

() से विभाजन
यदि संख्या के सभी अंकों का योग ३ विभाज्य है तो वह संख्या भी ३ से विभाज्य होगी ।
जैसे ७६३५९१२४२ इसकी अंकों का योग ७+६+३+५+९+१+२+४+२=३९ चूंकि ३९ विभाज्य है ३ से तो ७६३५९१२४२ भी विभाज्य होगी ३ से ।

() से विभाजन
यदि किसी संख्या के अन्तिम दो अंक ४ से विभाज्य है तो वह पूरी संक्या भी ४ से विभाज्य होगी
३४५८०४४ - चूंकि अन्तिम दो अंक ४४ विभाज्य हैं ४ चार से इसलिए पूरी संख्या भी विभाज्य है ४ से ।

() से विभाजन
यदि किसी संख्या का अन्तिम अंक ५ है या ० है तो वह संख्या ५ से विभाज्य होगी
१३४६२३५ - चूंकि इसका अन्तिम अंक ५ है इसलिए यह संख्या ५ से विभाज्य है ।

(5) से विभाजन
यदि कोई संख्या २ और ३ दोनों से विभाज्य है तो वह ६ से भी विभाज्य होगी ।

() से विभाजन
यदि किसी संख्या के अन्तिम ३ अंक ८ से विभाज्य है तो पूरी संख्या भी ८ से विभाज्य होगी ।

() से विभाजन
यदि किसी संख्या के सभी अंकों का योग ९ से विभाज्य है तो वह संख्या भी ९ से विभाज्य होगी ।

() ११ से विभाजन
यदि किसी संख्या के सम स्थानों के अंको और विषम स्थान के अंको का योग में अन्तर शून्य हो या ११ से विभाज्य हो तो वह पूरी संख्या ११ से विभाज्य होगी ।
जैसे :- ५९३७७९९०१ को देखे की यह ११ से विभाज्य है की नही
सम स्थान के अंको का योग =०+९+७+९ =२५
विषम स्थान के अंको का योग =१+९+७+३+५ = २५
चूंकि इन दोनों के योग में अन्तर शून्य है इसलिए यह पूरी संक्या ५९३७७९९०१ में भी ११ से भाग हो जायेगा ।

यह ज्ञान भी आपको परीक्षा में कुछ हद तक लाभ पहुचायेगा

सुशील दीक्षित





3 टिप्पणियाँ:

Ajay ने कहा…

Sir isme 7 se Vibhajyata ka niyam nahi hai. mere paas 7 se vibhajit hone wali sankhyaon ka bhi ek saral niyam hai agar aagya ho to main bataun.

Nitin Garg ने कहा…

100 4 se vibajya hai kya

Nitin Garg ने कहा…

7 ka to bahut katin hai
7 se vibhajya karne ke liya ikai ke ank ka doguna karte hai phir jitne ank bacte hai usme se gata dete hai
as 14 4 * 2 =8
8-1 =7
7 to 7 se katta hai
as 49
9 * 2 18
18 mai se 4 gaye to bache 14
14 7 se katti hai
as 5523
3*2 =6
6-552= 546
ab 6*2 =12
12-54=42
42 7 se katti hai

एक टिप्पणी भेजें