शनिवार, 17 जनवरी 2009

आज सन्डे है इसलिए फंडे भी है

सन्डे होता ही मजेदार है बस आपको मनाने का तरीका आना चाहिए गाना आए और चाहे आए गाना चाहिए आज मैं भी थोड़ा मस्ती के मूड में हूँ इसीलिए सब मस्ती में डूबे लग रहे है ब्लॉग वाणी की मस्ती देखिये मेरी पोस्ट पर किसी और की फोटो लगा दी लेकिन मुझे तो बहुत मजा आया क्योंकि आज तो फंडे है बाकी सब ठीक है नाम मेरा है ब्लॉग मेरा ही है। होता है यह क्योंकि आज ---




है न मजेदार । सन्डे को फन न हो तो बेकार है सन्डे ।

चलो भाई मई तो चला बिठूर में साईं दरबार दर्शन के लिए फिर मिलते है शाम को ।

सुशील दीक्षित

3 टिप्पणियाँ:

तरूश्री शर्मा ने कहा…

ha ha ha ha....
sahi kah rahe hain...sunday is funday...
Enjoy!!!!

संगीता पुरी ने कहा…

गणित के साथ ही साथ मजाक भी.....सही है.....संडे होता ही है इसीलिए ।

AKSHAT VICHAR ने कहा…

अंत भला तो सब भला वैसे आपके ब्लाग पर मेरी तस्वीर नहीं थी

एक टिप्पणी भेजें